उत्तराखंड : उत्तराखंड की जीरो टॉलरेंस सरकार की मंत्री पर पैसे लेकर भर्ती करने के आरोप लगे है जबकि गत दिनो जीरो टॉलरेंस की सरकार ने बेरोजागरो के लिए नियुक्ति पर रोक लगा दी.. पर्वतजन पोर्टल द्वारा साझा की गयी जानकारी के अनुसार त्रिवेंद्र सिंह रावत की जीरो टॉलरेंस सरकार भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुकी है जिसमे चहेतो को नौकरी देकर बंदरबांट की जा रही है

ताजा मामला त्रिवेंद्र सरकार की मंत्री रेखा आर्या द्वारा जारी एक पत्र में लिखा है जिसमे उत्तरकाशी के चार युवकों को उत्तरकाशी में नौकरी लगाने का आदेश सचिव, पशुपालन मत्स्य विभाग,उत्तराखंड शासन को दिया गया है

जहा एक ओर त्रिवेंद्र सरकार भ्रष्टाचार खत्म करने की बात कर रही है वही इस तरह के मामले सामने आ रहे है यदि ये सत्य है तो ये शिक्षित बेरोजगारो के साथ अन्याय है पर्वतजन द्वारा मंत्री रेखा आर्या व उनके करीबियों पर पैसे लेकर नौकरी देने के आरोप लगाते हुए इस बात की पुष्टि भी की जा रही है कि उनके द्वारा जब इस संबंध में मंत्री रेखा आर्या के पैड मे लिखे नंबरो पर संपर्क किया गया तो उनके स्टाफ द्वारा बात करने पर पता चला कि इस प्रकरण में मंत्री के पति भी संलिप्त है दूसरी तरफ रेखा आर्या द्वारा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून को पत्र लिखकर पर्वतजन वेब पोर्टल पर झूठी खबर प्रकाशित करने का आरोप लगाते हुए कार्यवाही करने को कहा गया है

ये बड़ा सवाल है आखिर त्रिवेंद्र सरकार में चल क्या रहा है जहाँ एक ओर हाइकोर्ट के आदेशों को दरकिनार करते हुए प्रदेश में मशीनों से दिनरात अवैध खनन खुलेआम करवाया जा रहा है वही दूसरी ओर सरकार के मंत्री इस तरह के आरोप लग रहे है नमस्कार उत्तराखंड सरकार से इस मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग करता है जिससे कि आम जनता के साथ किसी प्रकार का धोखा न हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here